Monday, May 27, 2024

हाईकोर्ट से 4 डॉक्टरों को मिली राहत, फिलहाल नहीं होगी मौत केस में कार्रवाई…

बिलासपुर। बिलासपुर के गोल्डी छाबड़ा डेथ केस में छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपोलो अस्पताल के चार डॉक्टरों के खिलाफ चल रही न्यायिक प्रक्रिया पर रोक लगा दी है। मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस रमेश सिन्हा और जस्टिस रजनी दुबे की अवकाशकालीन बेंच ने की। इसके साथ ही कोर्ट ने पुलिस समेत अन्य पक्षकारों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

दरअसल, डॉक्टरों के खिलाफ पुलिस ने इलाज में लापरवाही बरतने के आरोप में धारा 304-ए के तहत केस दर्ज किया था। कोर्ट में चालान भी पेश कर दिया है। आरोपी डॉक्टरों ने पुलिस की कार्रवाई को हाईकोर्ट में चुनौती दी है। सुनवाई के दौरान डिवीजन बेंच ने कहा कि ऐसे में डॉक्टर इलाज करना छोड़ देगा।

दयालबंद निवासी गोल्डी छाबड़ा को 25 दिसंबर 2016 को पेट में दर्द होने पर परिजन ने अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया था। इलाज के दौरान 26 दिसंबर को उसकी मौत हो गई। जिसके बाद परिजन ने इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए शिकायत की। पुलिस ने जांच के दौरान शव का पोस्टमॉर्टम कराया, जिसके बाद बिसरा जांच के लिए भेजा गया। इस बीच मामला पेंडिंग रहा। वहीं, परिजन ने हाईकोर्ट से न्याय की गुहार लगाई। इसके बाद हाईकोर्ट के आदेश पर विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम और मेडिको लीगल संस्थान ने डॉक्टरों के खिलाफ रिपोर्ट दी। इस पर पुलिस ने एक्शन लेते हुए 4 डॉक्टरों के खिलाफ केस दर्ज किया।

हाईकोर्ट के आदेश पर पुलिस ने गोल्डी छाबड़ा का इलाज करने वाले डॉ देवेंदर सिंह, डॉ राजीव लोचन, डॉ सुनील केडिया और डॉ मनोज राय के खिलाफ धारा 304 ए के तहत केस दर्ज कर न्यायालय में चालान पेश किया। वहीं, सरकंडा पुलिस की कार्रवाई को चुनौती देते हुए डॉक्टरों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।

Related Articles

बीजापुर में 33 नक्सलियों ने छोड़ा हथियार, मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने जताई खुशी ,कहा – उनके पुनरुत्थान के लिए तत्पर है हमारी सरकार…

रायपुर : माओवादियों की विचारधारा से क्षुब्ध होकर और छत्तीसगढ़ सरकार की आत्मसमर्पण एवं पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर लगातार नक्सली बंदूक छोड़कर समाज...

नवविवाहिता ने की आत्महत्या , दहेज प्रताड़ना से थी परेशान…

दुर्ग : छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में दहेज की मांग को लेकर आज एक और नवविवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली मामला दुर्ग...

गौवंश अभ्यारण्य योजना लाएगी साय सरकार ,मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने अधिकारियों को दिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश…

रायपुर। सड़कों पर खुले में घूमने वाले स्वामी विहीन गौवंशों की सुरक्षा एवं दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए साय सरकार प्रदेश में गौवंश...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follow Us

344FansLike
822FollowersFollow
69FollowersFollow

Latest Articles

बीजापुर में 33 नक्सलियों ने छोड़ा हथियार, मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने जताई खुशी ,कहा – उनके पुनरुत्थान के लिए तत्पर है हमारी सरकार…

रायपुर : माओवादियों की विचारधारा से क्षुब्ध होकर और छत्तीसगढ़ सरकार की आत्मसमर्पण एवं पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर लगातार नक्सली बंदूक छोड़कर समाज...

नवविवाहिता ने की आत्महत्या , दहेज प्रताड़ना से थी परेशान…

दुर्ग : छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में दहेज की मांग को लेकर आज एक और नवविवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली मामला दुर्ग...

गौवंश अभ्यारण्य योजना लाएगी साय सरकार ,मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने अधिकारियों को दिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश…

रायपुर। सड़कों पर खुले में घूमने वाले स्वामी विहीन गौवंशों की सुरक्षा एवं दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए साय सरकार प्रदेश में गौवंश...

बारूद फैक्ट्री में हुए विस्फोट मामले की होगी दंडाधिकारी जांच, मृतक के परिवार को पांच लाख एवं घायलों को पचास हजार देने की घोषणा…

रायपुर। बेमेतरा जिले के बोरसी गांव स्थित बारूद फैक्ट्री में हुए विस्फोट मामले में छत्तीसगढ़ सरकार ने दंडाधिकारी जांच के आदेश दे दिए हैं।...

अवैध रेतघाट में खनिज विभाग ने मारा छापा, 2 चैन माउंटिंग मशीन जब्त…

आरंग : राजधानी रायपुर के आरंग क्षेत्र में महानदी से लगे रेट में अवैध रेतघाटों में उत्खनन और परिवहन का काम धड़ल्ले से चल...