Sunday, May 22, 2022

भाजपा के नेताओं को पशुपालकों एवं गोबर से इतना चिढ़ क्यों?- वंदना राजपूत

रायपुर/ भाजपा के प्रदेश स्तरीय से लेकर राष्ट्रीय स्तरीय तक के नेताओं के मानसिक स्थिति खराब हो गई है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि भाजपा के नेताओं को पशुपालकों एवं गोबर से इतना चिढ़ क्यों ?
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य ने गोबर ख़रीदी की शुरुवात कर गोबर को ग्रामीण विकास एवं आर्थिक मॉडल का एक बेहद महत्वपूर्ण हिस्सा बना दिया है। इससे पहले पशुपालक गोबर का उपयोग कंडे बनाने में करते थे, जिससे मामूली आय ही हो पाती थी। मगर अब सरकार की गोधन न्याय योजना से पशुपालकों और किसानों की अतिरिक्त आय हो रही है। इस योजना के जरिये अब पशुपालकों की आर्थिक स्थिति बेहतर होती जा रही है तो भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के पेट में अपच हो रहा है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि गोधन न्याय योजना से महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही है तो भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को पीड़ा हो रही है जो 15 साल शासन में रहे दूरदर्शिता के कमी के कारण ये सोच भी नहीं पाये थे और कांग्रेस सरकार ने कर दिखाया।
दंतेवाड़ा के टेकनार में स्व-सहायता समूह की दीदीयों ने गोबर का उपयोग करते हुए इको फ्रेंडली दीये और गणेश मूर्तियां बनाई थी और इन्हें बाज़ार में बेच कर उन्हें अतिरिक्त आय भी कमा रही है।

सूरजपुर स्व-सहायता समूह की महिलाएं, “हर दिन 20 क्विंटल गोबर खरीदा जा रहा है जिसे खाद बनाने में उपयोग किया जाता है। नियमित रूप से 15 दिन में पशुपालकों को भुगतान भी हो जाता है जिससे पशुपालकों को लाभ हो रहा है।“ मोपका गोबर खरीदी केंद्र, बिलासपुर “स्व-सहायता समूह द्वारा गोबर से खाद, गमलों एवं दीये का निर्माण कर रहे है। अब तो बहुत जल्द गौठानों में गोबर से बिजली बनाने का काम भी शुरू होने वाला है। कांग्रेस सरकार का यही मनशा रही है कि कांग्रेस सरकार के हर एक योजना हर एक पंक्ति के आखिरी व्यक्ति तक पहुंचे।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि पहले गांव में महिलाओं के पास आय का कोई साधन नहीं रहता था लेकिन गोधन न्याय योजना से महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही है तो भाजपा के नेताओं को खटक रहा है इसलिये प्रदेश के माहौल को दूषित करने में लगे हुए हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Follow Us

344FansLike
822FollowersFollow
69FollowersFollow

Latest Articles